कांग्रेस अब बर्दाश्त नहीं करेगी मोदी सरकार की तरफ बार-बार किया जा रहा अन्नदाता का अपमान : प्रिंयका गांधी

Jan 8, 2021 / /

कांग्रेसी सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के नेतृत्व में सांसद गुरजीत सिंह औजला,सांसद जसबीर सिंह डिम्पा पर आधारित प्रतिनिधिमंडल ने कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रिंयका गांधी के नई दिल्ली स्थित निवास पर मुलाकात करके कृषि विरोधी कानून के खिलाफ संघर्ष कर रहे किसानो के आंदोलन पर विस्तारपूर्वक चर्चा की। प्रिंयका गांधी ने गूंगी-बहरी मोदी सरकार की तरफ से कृषि विरोधी कानूनों को रद्द करवाने के लिए दिल्ली के दरवाजों पर रोष व्यक्त कर रहे संघर्षशील हजारों किसानों की अनदेखी की निंदा की। वहीं केंद्र सरकार की तरफ से बार-बार बातचीत के लिए बुला कर किसान संगठनो को खाली हाथ लौटाने से हो रही जलालत पर दो टूक शब्दों में कहा कि अब कांग्रेस अन्नदाता का और अपमान बर्दाश्त नहीं करेगी। बल्कि विपक्ष का अपना दायित्व निभाते हुए खुल कर सडक़ों पर उतर कर किसान आंदोलन में कूदेगी। अब तक तो कांग्रेस पार्टी किसान नेताओं की तरफ से राजनितिक दलों को दखल न देने की अपील पर चुप थी। उन्होने किसान आंदोलन की अनदेखी व कृषि कानूनों को रद्द न करने मोदी सरकार हठधर्मी पर कहा कि अगर आज 8 जनवरी को किसान व सरकार के बीच कृषि कानून रद्द न किए गए तो कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी व वह खुद (प्रिंयका गांधी)सहित कांग्रेस के बड़े नेता 26 जनवरी से पूर्व किसान आंदोलन में कूद कर मोदी सरकार को कुंभकर्णी नींद से जगाने के प्रयत्न करेंगे। सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि अब कांग्रेस खुलकर किसान आंदोलन में उतरेगी। और कृषि कानूनों को रद्द करवाने तक सडक़ों पर ही संघर्ष करेगी। इस अवसर पर कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता मैडम सजारिता,कांग्रेसी विधायक कुलबीर सिंह जीरा,फारेस्ट विभाग पंजाब के चेयरमैन वरिन्द्र सिंह भिंडर,सीवरेज बोर्ड पंजाब के वाइस चेयरमैन कमलप्रीत सिंह लक्की व यूथ कांग्रेस लुधियाना के पूर्व अध्यक्ष राजीव राजा अन्य भी उपस्थित रहे।


Send Your Views

Comments


eNews Latest Videos


Related News