भारत पाकिस्तान मैच के लिए भीड़ जुटाने पर समाजिक कार्यकर्ता ने डिप्टी कमिश्नर से मांगा स्पष्टीकरण

Oct 25, 2021 / /

लुधियाना के डिप्टी कमिश्नर वरिंदर शर्मा के लिए एक एनजीओ कार्यकर्ता की ओर से बड़ी मुसीबत खड़ी कर दी गई है। ये मुसीबत उनके लिए सराभा नगर किप्स मार्केट में एलईडी पर भारत पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मुकाबला दिखाने को कोरोना कल में जुटाई गई भीड़ को लेकर है। असल में चंद्र नगर निवासी व सामाजिक कार्यकर्ता कीमती रावल की ओर से ये शिकायत लुधियाना के डिप्टी कमिश्नर और साथ में आपदा प्रबंधन कानून के चेयरपर्सन वरिंदर शर्मा को की गई है। इस पूरे मामले में मुसीबत ये है कि इस क्रिकेट मैच का लुल्फ उठाने वालों में खुद डिप्टी कमिश्नर वरिंदर कुमार शर्मा माैजूद थे और उनके अलावा पंजाब के कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु, विधायक कुलदीप वैद, पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर, निगम कमिश्नर प्रदीप सभ्रवाल सहित कईं गणमान्य लोग तो मौजूद थे। अपनी शिकायत में कीमती रावल ने कहा है कि 22 मार्च 2020 से आपदा कानून प्रबंधन पूरे देश में लागू है और आप (डीसी) इस कानून के पहरी हैं। इसके उल्ट जिला प्रशासन ने सभी नियम कानून तोड़ते हुए ये मैच दिखाने के लिए हजारों की भीड़ मौके बिना मास्क व सोशल डिस्टेंस के जुटाई। अपनी शिकायत में कीमती रावल ने लिखा है कि उनका जैसा मातंड अगर कोई बिना मास्क के सड़क पर निकलता है तो पुलिस चालान काट कर हाथ में पकड़ा देती है और सराभा नगर में कोरोना प्रोटोकाल को सख्ती से लागू करवाने वाले अधिकारियों की ओर से तोड़ कर रख दिया गया। रावल ने डीसी आरोप लगाते कहा कि कोरोना के प्रोटोकाल को लागू करवाना आपका काम है और खुद आपकी ओर से ये भीड़ जुटाई गई, जैसे किसी सरकारी कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा हो। गौर हो जहां एक ओर लुधियाना में पहली बार एक प्राइवेट कंपनी की एलईडी पर भारत पाक क्रिकेट मैच काे लाइव दिखाने का कार्यक्रम रखा गया था और इसके बाद मैच हारने पर यहां मौजूद लोगों को निराशा हाथ लगी। शिकायतकर्ता ने उक्त मामले में डीसी से इस मामले पर डीए लीगल की रिपोर्ट लेकर पूरे शहरवासियों को इसका स्पष्टीकरण देने की मांग भी रखी है।


Send Your Views

Comments


eNews Latest Videos


Related News